Home | General | अल्पसंख्यक वर्ग के विद्यार्थियों के लिए प्री-मैट्रिक छात्रवृत्ति योजना

अल्पसंख्यक वर्ग के विद्यार्थियों के लिए प्री-मैट्रिक छात्रवृत्ति योजना

By
Font size: Decrease font Enlarge font

वर्ष 2018-19 के लिए आवेदन 30 सितम्बर तक आमंत्रित

भोपाल, 

अल्पसंख्यक वर्ग के कक्षा एक से 10 तक के नवीन/नवीनीकरण छात्र-छात्राओं से शैक्षणिक सत्र 2018-19 के लिए प्री-मैट्रिक छात्रवृत्ति योजना में 30 सितम्बर तक ऑनलाईन आवेदन आमंत्रित किए गए हैं। छात्रवृत्ति के लिए विद्यार्थियों को नेशनल स्कॉलरशिप पोर्टल www.scholarships.gov.inपर आवेदन करना होगा।

अल्पसंख्यक वर्ग के छात्र-छात्राओं से आवेदन केवल ऑनलाइन ही स्वीकार किए जायेंगे। ऑफलाईन आवेदनों पर विचार नहीं किया जायेगा। केन्द्र सरकार द्वारा अल्पसंख्यक वर्ग के अन्तर्गत, मुस्लिम, ईसाई, बौद्ध, सिख, पारसी एवं जैन समुदाय को अधिसूचित किया गया है। मध्यप्रदेश के लिए वर्ष 2018-19 में प्री-मैट्रिक छात्रवृत्ति के नवीन प्रकरणों के लिए कुल 75 हजार 890 प्रकरणों का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। इसमें मुस्लिम छात्र-छात्राओं की संख्या 61 हजार 253, ईसाई-2 हजार 736, सिख एक हजार 942, बौद्ध दो हजार 772, जैन 7 हजार 274, पारसी समुदाय के तीन विद्यार्थियों को छात्रवृत्ति दिए जाने का लक्ष्य रखा गया है। नवीनीकरण प्रकरणों के लिए लक्ष्य निर्धारित नहीं है।

आयुक्त, पिछडा वर्ग एवं अल्पसंख्यक कल्याण श्री रमेश थेटे ने शैक्षणिक संस्थाओं को निर्देश दिए हैं कि संस्था आवेदकों का ऑनलाईन आवेदन एवं संलग्न दस्तावेजों का पूर्ण रूप से सूक्ष्म परीक्षण कर नियमानुसार पात्र विद्यार्थियों के आवेदन समयावधि में सत्यापन के बाद अग्रिम स्तर के लिए फॉरवर्ड करें। अधूरे आवेदन अग्रेषित किए जाने की स्थिति में आवेदन निरस्त होने की पूर्ण जवाबदारी संस्था की होगी तथा ऐसे प्रकरणों पर पुन: विचार नहीं किया जायेगा।

Subscribe to comments feed Comments (1 posted):

chaiduacY on 12/03/2021 05:50:39
avatar
https://ponlinecialisk.com/ - cialis prescription online
Thumbs Up Thumbs Down
0
total: 1 | displaying: 1 - 1

Post your comment comment

  • Bold
  • Italic
  • Underline
  • Quote

Please enter the code you see in the image:

  • email Email to a friend
  • print Print version
  • Plain text Plain text
Tagged as:
No tags for this article
Rate this article
0